गढ़वाल सांसद श्री रावत द्वारा ‘चिट्ठियाँ’ विमोचित

38 Views

इंदौर। कोरोना काल में साहित्यकारों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम चिट्ठियाँ लिखीं,इसे संस्मय प्रकाशन ने पुस्तकबद्ध कर ‘चिट्ठियाँ” नाम से प्रकाशित किया। इस पुस्तक का विमोचन संसद में गढ़वाल से सांसद एवं उत्तराखंड के पूर्व शिक्षा मंत्री तीरथ सिंह रावत एवं मातृभाषा उन्नयन संस्थान की दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष एवं वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. विजयलक्ष्मी भट्ट शर्मा ने विमोचित किया। ‘चिट्ठियाँ’ का सम्पादन मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ द्वारा किया गया है।
इस अवसर पर सांसद श्री रावत ने पुस्तक को प्रधानमंत्री जी तक पहुँचाने की प्रतिबद्धता के साथ कहा कि ‘साहित्यकारों द्वारा अपने प्रधानमंत्री से संवाद करने की पुरानी प्रथा है, इसे संस्थान एवं संस्मय ने क़ायम रखा, यह क़ाबिल-ए-तारीफ़ है।’
श्री रावत ने मातृभाषा उन्नयन संस्थान द्वारा संचालित हिन्दी आंदोलन की प्रशंसा की।

‘चिट्ठियाँ’ पत्र संग्रह में डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’, भावना शर्मा, दिल्ली, सुरभि सप्रू, मोनिका शर्मा मन, कुसुमलता कुसुम, मुक्ता मिश्रा, गिरीश चावला, नूतन गर्ग, डॉ विभा जोशी ‘विभूति’, निकिता शर्मा, दीपमाला पाण्डेय, डॉ. विजयलक्ष्मी भट्ट शर्मा, अमिता रवि दूबे, मंजू बिष्ट, डॉ. मनीला कुमारी, ऋतु ऊषा रॉय, नवनीता कटकवार, संतोष कुमार वर्मा ‘कविराज’, डॉ.संध्या सिलावट, श्रीमती प्रतिभा पंचोली के पत्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम सम्मिलित हैं।

Translate »