रोटरी काव्य मंच की 158 वी आनलाइन कवि गोष्ठी संपन्न

280 Views

भ्रष्टाचार का मुंह हो काला,चुनो नेता ऐसा जो राम सा हो भोला भाला


इन्दौर। सामयिक विषय पर रोटरी काव्य मंच के पूरे देश ओर विदेश में फेले करीब 40 कवियों ने बेबाक कलम चलाई और भ्रष्टाचार मुक्त नए भारत की कल्पना साकार करने का आव्हान किया,ऐसा महसूस होने लगा कि अब भारत का हर नागरिक जागरूक हो गया लगता है अब रामराज्य आकर रहेगा,
रोटरी काव्य मंच के अध्यक्ष डॉ, बनवारीलाल जाजोदिया,”यथार्थ” अपने सारगर्भित उद्भोधन में कहां पूरे देश भ्रष्टाचार विकराल रूप ले चुका है,आजादी के 77 साल बाद भी आजादी का हम सही अर्थ नहीं समझ सके,होना यह चाहिए था देश का चहूंमुखी विकास और विश्व गुरु का ताज भारत मां के ललाट पर शोभायमान जबकि हो रहा है आगजनी,लूटपाट,हत्याएं,हर काम की रिश्वत? एक बात हम सब विचार करें कि जिस तरह हम अपनी सगी मां का मन में सेवा ओर हर कमी का पूरा करने का रखते है वैसा ही भाव भारत माता के लिए क्यों नहीं,हम सभी भारत मां के लाडले बेटे है,क्या एक भाई अपने ही भाई का काम करने के जो उसका दायित्व है रिश्वत लेगा,हास्यास्पद है तभी तो देश में सभी बुराइयां पनप रही है,हमें सचेत ओर सतर्क रहना होगा हमारे आसपास बहुत से रावण घूम रहे है,यदि अब भी नहीं जागे तो हमेशा के लिए गहरी नींद में सोना होगा,,
इस कार्यक्रम के मुख्य अथिति थे,वेस्ट बंगाल बुरनपुर जिले वरिष्ठ साहित्यकार प्रो, डॉ, प्रहलाद प्रसाद जिन्होंने पूरे बंगाल की भ्रष्ट स्थिति उजागर कर दी,,मां सरस्वती की स्थापना के बाद सरस्वती वंदना गाई डॉ, स्वाति सिंह जी ने स्वागत गीत गया शोभारानी तिवारी जी ने सम्मान पत्र का वाचन किया श्री अशोक द्वेदी जी ने संचालन किया रो,राजकुमार हांडा और रो,दिनेश दवे जी ने,आभार माना,रो, डॉ, राजेंद्र खरे जी ने,काव्य गोष्ठी में रचना पाठ करने वाले थे नीति अग्निहोत्री,संतोष तोषनीवाल,शेष नारायण चौहान,राजकुमार हांडा, डॉ,राज गोस्वामी,अनुराग खरे, प्रो,शुभकुमार, डॉ,जवाहर लंदन से, डॉ,राजेंद्र खरे,रो,दिनेश दवे,मनीराम शर्मा,पूर्णचंद्र शर्मा, डॉ,अरविंद श्रीवास्तव,दतिया,श्री जयप्रकाश अग्रवाल,नेपाल,रशीद अहमद शेख, डॉ,रामस्वरूप साहू,मुंबई,शिशिर देसाई, हुकूम चंद कटारिया,सनावद, डॉ, बनवारी जाजोदिया, डॉ,विजय लक्ष्मी आगरा,सोनल शर्मा,सीकर,रो महेंद्र शर्मा,श्री राजेश तिवारी,प्रो प्रह्लाद प्रसाद,बंगाल, डॉ,बिनोद हंसोड़ा,दरभंगा,अनिल वर्मा अलीगढ़,और ललित सिंह ठाकुर,भाटापारा,देश से भ्रष्टाचार खत्म करने की शपथ के बाद राष्ट्रगान हुआ अध्यक्ष जी ने कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा भारत माता के जयकारे से की,,

Translate »