नरवाई की आग से ग्रामीण परेशान…पटवारी ने मौके पर जाकर बनाया दो स्थलों पर पंचनामा

नरवाई की आग से ग्रामीण परेशान

  • पटवारी ने मौके पर जाकर बनाया दो स्थलों पर पंचनामा
    हरदा
    टिमरनी तहसील के कुहीग्वाड़ी गांव में मंगलवार को सुबह से लगाकर दोपहर आग की घटना हुई। घटना में लगभग 500 एकड़ की नरवाई जलकर खाक हो गई। गांव के लोगों के द्वारा आग पर काबू पा लिया गया। इस आगजनी में पास स्थित बोई मूंग की फसल नष्ट हुई साथ ही नर्सरी जलने से बची। सुबह लगभग साढ़े सात बजे गोंदागांव खुर्द के किसान नर्मदाप्रसाद के खेत में आग लगी पाई गई। इस दौरान नर्सरी मालिक शंकर सिंह सोलंकी ने पुलिस एवं एसडीएम से शिकायत कर आग लगाने वालों पर कार्रवाई की मांग की। दूसरे स्थान पर किसान अंतर सिंह राजपूत की बोई गई मूंग की फसल खेतों के चारो ओर की आग की लपेट में नष्ट हो गई। पटवारी ने दोनों स्थलों का मौके पर जाकर पंचानामा बनाया। किसानों का कहना है कि हमारे द्वारा खेतों में रोटावेटर कर फसल बोकर एवं नर्सरी को नरवाई की आग से बचाया जा रहा है किन्तु कई लोगों के द्वारा खेतों में आग लगाकर भाग जाते है।
    पिछले वर्ष जलकर तीन मकान हुए थे खाक
    किसान अंतरसिंह सोलंकी ने बताया कि आग लगाने वाले लोगों द्वारा आग लगा दी जाती है जिससे पिछले वर्ष गांव के तीन मकान एवं भूस सहित कई सामग्रियां जलकर खाक हो गई थी एवं ग्रामीणों का लगभग 1 लाख का नुकसान हुआ था। ग्रामीणों ने मांग की है कि जिनके द्वारा आग लगाई जा रही है उन पर सख्त कार्यवाही की जाना चाहिए जिससे गांव में किसी प्रकार की कोई घटनाएं घटित न हो।

मेरे द्वारा दोनो स्थलों पर जाकर ग्रामीणों के सामने पंचनामा तैयार कर लिया गया है, कार्यवाही के लिए आगे प्रेषित कर दिया जायेगा।
— सुंरलाल धाकड़, पटवारी

Translate »