Home Uncategorized एशियन गेम्स 2018 : 12वें दिन एथलेटिक्स में भारत को दो गोल्ड,...

एशियन गेम्स 2018 : 12वें दिन एथलेटिक्स में भारत को दो गोल्ड, अब तक इतने मेडल

199
0
SHARE

एशियन गेम्स 2018 : 12वें दिन एथलेटिक्स में भारत को दो गोल्ड, अब तक इतने मेडल

नई दिल्ली। एशियन गेम्स 2018 का 12वां दिन भारत के लिहाज से शानदार रहा। एथलेटिक्स इवेंट के आखिरी दिन भारत ने दो गोल्ड समेत पांच मेडल जीते। लेकिन हॉकी में भारत के हाथ मायूसी लगी, जब पिछली बार की चैंपियन टीम भारत को मलेशिया के हाथों सेमीफाइनल में हार मिली।

भारत के अब कुल 59 पदक हो गए हैं। जिसमें 13 गोल्ड, 21 सिल्वर और 25 ब्रॉन्ज मेडल हैं। इसके साथ ही भारत ने इंचियोन एशियन गेम्स-2014 को पीछे छोड़ दिया है। पिछले एशियाड में भारत के खाते में कुल 57 पदक आए थे। साथ ही भारत अब तक 13 गोल्ड मेडल जीतकर इंचियोन के प्रदर्शन से आगे निकल आया है। इंचियोन में 11 गोल्ड मिले थे।

 गुरुवार को भारत को दो गोल्ड एथलेटिक्स इवेंट में मिले। पहले पुरुषों के 1500 मीटर में जॉनसन ने भारत को गोल्ड दिलाया तो दूसरा गोल्ड महिलाओं के 4X400 मीटर रिले में आया। ये भारत का इस एशियन गेम्स में 13वां गोल्ड था। इससे पहले 1998 में भारत ने इस इवेंट में सिल्वर जीता था। उसके बाद ये पहला मेडल है।केरल से ताल्लुक रखने वाले 27 वर्षीय जॉनसन इससे पहले एशियन गेम्स 2018 में ही 800 मीटर के फाइनल में सिल्वर मेडल जीता था। इस एशियन गेम्स में ये जॉनसन का दूसरा पदक है। जिनसन जॉनसन ने 1500 मीटर फाइनल में भारत को इस एशियन गेम्स का 12 वां गोल्ड जिताया था। उन्होंने 1500 मीटर फाइनल रेस को 3:44:72 सेकेंड में पूरा करते हुए सुनहरी कामयाबी हासिल की।

ट्रैक एंड फील्ड में जॉनसन का रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा है। उन्होंने वर्ष 2015 में वुहान में आयोजित एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 800 मीटर इवेंड में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सिल्वर मेडल अपने नाम किया था। इसके लिए उन्होंने 1:49:98 सेकेंड का समय निकाला था। इसी वर्ष थाइलैंड में आयोजित एशियन ग्रां प्री में तीन गोल्ड मेडल अपने नाम किया था।

वर्ष 2016 जुलाई में बैंगलुरू में उन्होंने 800 मीटर के रेस में 2016 समर ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था और उन्होंने इस दौरान अपना व्यक्तिगत बेस्ट टाइम (1:45:98) निकाला था। इसके अलावा भारत की सीमा पुनिया ने 62.26 के स्कोर के साथ भारत को डिस्कस थ्रो में ब्रॉन्ज मेडल दिलाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here