महापौर पुष्यमित्र भार्गव और सभी पार्षदों ने पद व गोपनीयता की शपथ ली

36 Views

इंदौर के विकास में कोई कमी नहीं आने देंगे – भूपेंद्र सिंह

महापौर पुष्यमित्र भार्गव व सभी पार्षद जनसेवक बनकर इंदौर की जनता की सेवा करेगे- वीडी शर्मा

इंदौर । आज गौरव का क्षण है, आज महापौर व पार्षदों ने इंदौर के विकास की शपथ ली है, यके हमारा संकल्प था, आज उस संकल्प की हमने शपथ ली है, ये शहर अहिल्या बाई की नगरी है, इस शहर को आदरणीय सुमित्रा महाजन ने सजाया और संवारा है, कैलाश विजयवर्गीय और सभी जनप्रतिनिधियों ने इंदौर को सर्वश्रेष्ठ शहर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
शर्मा ने कहा मुख्यमंत्री ने इंदौर के विकास का संकल्प लिया, ये उनके सपनों का शहर है। इंदौर को मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी कहते है, इंदौर को मिनी मुम्बई भी कहा जाता है, इंदौर सांस्कृतिक राजधानी भी है, यहाँ अलग प्रकार का उमंग व उत्साह नजर आता है, एक अलग प्रकार के संस्कार नजर आते है, एक अलग प्रकार के रीति रिवाजो और परंपराओं को जीने वाला शहर है, इसलिए यहाँ मिनी भारत के दर्शन भी होते है, ये एक संकल्पित शहर है, जो संकल्प लेता है उसे पूरा करने का काम करता है, इसलिए ये नंबर वन शहर है।

शर्मा ने स्वच्छ्ता की तारीफ करते हुये कहा कि प्रधानमंत्री ने स्वच्छ्ता का संकल्प लिया तो हमारे महापौर ने, कलेक्टर, प्रशासनिक अधिकारियों ने मिलकर स्वच्छ्ता को जन आंदोलन बनाया है। इंदौर की जनता ने स्वच्छता को अपना संस्कार बना लिया जिसके फलस्वरूप इंदौर को पांच बार स्वच्छ्ता में नंबर वन का तमंगा मिला।

हम इंदौर की गली गली में विकास पहुँचाने के संकल्प को लेकर आये है, भाजपा के महापौर और पार्षद जनसेवक बनकर इंदौर की जनता की सेवा करेंगे। इंदौर के लोग सकारात्मकता के साथ खड़े होते है। इंदौर के नागरिक के इस दृष्टिकोण के कारण इंदौर विकास के नए सोपान रच रहा है। विकास को लेकर महापौर पुष्यमित्र व उनकी टीम इंदौर को नया स्वरूप देने का काम आपके सहयोग से करेगी, इंदौर की भावना के अनुरूप हम सब मिलकर इंदौर को नया इंदौर बनायेगे।


शर्मा ने कहा पुष्यमित्र विन्रम, विजनरी और समर्पित भाव से काम करने वाले सरल व्यक्ति है, उनके नेतृत्व में इंदौर चहुँमुखी विकास करेगा। जिस जनता ने हमें चुनकर पार्षद, महापौर, सांसद, विधायक बनाया उनकी उम्मीदों पर खरे उतर कर जनता के अनुरूप इंदौर का विकास करे, हमने विकास करके जनता के विश्वास को कायम किया है, इसलिए भाजपा को जनता का आशीर्वाद मिल रहा है, लेकिन हमारी जवाबदारी बढ़ गयी है, इसलिए जनता के विश्वास पर खरे उतरने का काम तो करेगे ही इंदौर के विकास को सुनिश्चित करके इंदौर को दुनिया के सबसे विकसित शहरों में शामिल करेंगे।

मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि मैं मुख्यमंत्री की ओर से अभिनंदन करता हूँ, अपनी ओर से भी इंदौर की जनता को नमन करता हूँ। मप्र के मुख्यमंत्री की ओर से आशस्वत करता हूँ कि इंदौर के विकास में कोई कमी नही रखी जायेगी। इंदौर लगातार विकास के नए आयाम रच रहा है, इंदौर आगे बढ़े और देश के सबसे विकसित नगर के रूप में आगे बढ़े इसमे कोई कमी नही आने देंगे।
मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि भाजपा की केंद्र और राज्य में सरकार है, जो विश्वास जनता ने भाजपा में किया है, मैं उसके लिए इंदौर की जनता को धन्यवाद देता हूँ, उन्होंने विकास को चुनकर भाजपा को जनता की सेवा करने का अवसर दिया।
महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने कहा कि हमारा सौभाग्य है, कि अहिल्या नगरी की सेवा करने का अवसर हमें जनता ने दिया है। इंदौर नगर पालिका निगम के महापौर के रूप में मैंने शपथ ली है, ये शपथ नहीं है, बल्कि जनता के प्रति हमारे दायित्वबोध का प्रतीक है। एकात्म मानववाद हमारी पार्टी का मूलमंत्र है, केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार इसी मूलमंत्र को लेकर काम कर रही है, हमारी निगम परिषद भी पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के सपने को साकार करने के लिए गरीब व्यक्ति के कल्याण और उत्थान के लिए कार्य करेगी। यदि राष्ट्र को परम वैभव के शिखर पर ले जाना है, तो अंतिम व्यक्ति का कल्याण सुनिश्चित करना हमारी जवाबदारी है। हमारी निगम परिषद इसके लिए कृत संकल्पित है।

भार्गव ने कहा व्यक्ति की सबसे पहली पाठशाला उसका परिवार होता है, जहाँ से संस्कारों को लेकर वो समाज जीवन मे आता है, मेरा सौभाग्य रहा है कि मुझे मेरे माता पिता से सेवा, समर्पण, राष्ट्रवाद और सामाजिकता के संस्कार मिले। उन संस्कारो को लेकर समाज जीवन में कार्य करने का प्रयास किया। मेरी धर्मपत्नी व पूरे परिवार ने मुझे मेरे हर कार्य मे सहयोग किया। भार्गव ने कहा जिस संगठन को भारत रत्न हम सबके प्रेरणा पुंज स्व. अटल बिहारी वाजपेयी, स्व. कुशाभाऊ ठाकरे, सुंदरलाल पटवा , कैलाश जोशी , नारायण राव धर्म, गोकुलदास भूतड़ा जैसे मनीषियों ने अपने तप और निष्ठा से सींचने का काम किया है, आज उसी संगठन ने मुझ जैसे छोटे कार्यकर्ता को महापौर प्रत्याशी के रूप में चुनकर जनता की सेवा करने का अवसर प्रदान किया है। जनता के आशीर्वाद, कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम से ऐतिहासिक विजय मिली है, लेकिन उसके साथ साथ इंदौर के विकास की जिम्मेदारी भी मिली है। भार्गव ने कहा कि निगम में हमारी परिषदें रही है, हमारे महापौरों ने इंदौर के विकास को सुनिश्चित करते हुए इंदौर को प्रदेश ही नहीं बल्कि देश के सबसे सुंदर शहरों में शामिल करवाने का काम किया है। स्व. राजेन्द्र धारकर, स्व. श्री वल्लभ शर्मा, स्व. लालचंद मित्तल, स्व. मधुकर वर्मा और आज जो हम इंदौर का स्वरूप देख रहे है, उसमें आदरणीय कैलाश विजयवर्गीय, डॉ. उमाशशि शर्मा, कृष्णमुरारी मोघे, मालिनी गौड़ के नेतृत्व में निगम परिषदों ने इंदौर के विकास को आगे बढ़ाने का काम किया है।
हम जनभागीदारी और जनस्वीकृति से विकास को नई दिशा देते हुए इंदौर को विश्व के नक्शे पर उभारने का काम करेंगे।
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और वी.डी. शर्मा के आशीर्वाद व मार्गदर्शन व सभी जनप्रतिनिधियों के विशेष सहयोग से यह निगम परिषद राजनैतिक शुचिता और विकास के नए मापदंड स्थापित कर इन पांच वर्षों में अपने संकल्पों को पूरा करने का काम करेगी। स्वच्छ्ता के साथ साथ हमने हमारे संकल्प पत्र में यातायात प्रबंधन, सुव्यवस्थित यातायात व्यवस्था का एक लक्ष्य निर्धारित किया है। हमारे इस संकल्प को जनता पूर्ण करने में हमारा पूरा सहयोग करेगी, ऐसा हमारा विश्वास है।

कलेक्टर मनीष सिंह ने महापौर पुष्यमित्र भार्गव को सबसे पहले शपथ दिलवाई उसके बाद विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 1, 2, 3, 4, 5 के नवनिर्वाचित पार्षदों के बाद राऊ, देपालपुर, सांवेर के पार्षदों को पद व गोपनीयता की शपथ दिलवाई।

शपथ लेने के बाद पुष्यमित्र भार्गव मंच से नीचे उतरकर साधु संत, वरिष्ठ जनों, समाजसेवियों के बीच पहुँचे उनका आशीर्वाद लिया। मीडियाकर्मियों का भी अभिनंदन किया।
उसके बाद मंच पर बैठे सभी वरिष्ठ नेताओं और माता -पिता और परिजनों के चरण स्पर्श कर आशीर्वाद लिया।
कार्यक्रम की शुरुवात नेताओ ने भारत माता , देवी अहिल्याबाई होल्कर और स्वामी विवेकानंद जी के चित्रों पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वल्लन के साथ की।

Translate »