कोरोना वायरस के बावजूद धरना खत्म करने से प्रदर्शनकारियों का इनकार, दर्ज हो सकता है मुकदमा

91 Views

कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते संक्रमण के बीच मंगलवार को पुलिस व प्रशासन के अधिकारी शाहीन बाग पहुंचे। उन्होंने वहां बैठे लोगों को संक्रमण के खतरे के बारे में समझाने का प्रयार किया, लेकिन प्रदर्शनकारियों के साथ अधिकारियों की तीखी बहस हो गई। अधिकारियों ने वायरस के खतरे को देखते हुए प्रदर्शन को खत्म करने की अपील की, जिस पर प्रदर्शनकारी भड़क उठे और धरना जारी रखने का ऐलान कर दिया। प्रदर्शनकारियों को करीब दो घंटे तक कानून का हवाला देकर समझाया गया, जिसके बाद भी वे नागरिकता संशोधन कानून को वापस लेने की मांग पर अड़े रहे। 

बातचीत विफल होने पर प्रशासन की ओर से कानूनी कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई है। वहीं शाहीन बाग में पुलिस के पहुंचने की सूचना पर लोगों की भीड़ अचानक बढ़ गई, जबकि दिल्ली सरकार की तरफ से किसी एक स्थान पर 50 से अधिक लोगों के एकत्र होने की मनाही है। ऐसा करने पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी तक के निर्देश दिए गए हैं।

देश भर में कोरोना जैसे संक्रमण रोग के खतरे से बचने के लिए हर कोई भीड़-भाड़ से बचने का प्रयास कर रहा है। केंद्र व दिल्ली सरकार की तरफ से भी वायरस के रोकथाम के लिए कई दिशा-निर्देश दिए गए हैं। इन सबके बीच शाहीन बाग में प्रदर्शन में शामिल होने के लिए देश भर से लोग पहुंच रहे हैं।

Translate »