वाणी बरठाकुर आसाम की प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त

181 Views

वाणी बरठाकुर आसाम की प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त

इंदौर । हिन्दी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए कार्यरत संस्था ‘मातृभाषा उन्नयन संस्थान’ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ की अनुशंसा पर संस्थान की राष्ट्रीय महासचिव डॉ प्रीति सुराना ने आसाम प्रदेश अध्यक्ष हेतु शोणितपुर निवासी, श्रीमती वाणी बरठाकुर को प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है।

श्रीमती बरठाकुर शिक्षिका होने के साथ-साथ साहित्यकार भी है और आपकी साहित्यिक भाषा आसामी व हिन्दी है। मूलतः आप छंदबद्ध सृजन करते है। वर्तमान में आप बतौर अध्यक्ष- नारायणी साहित्य अकादमी, तेजपुर, समीक्षक और महासचिव-नूतन साहित्य कुञ्ज,सदस्य – असमिया लेखिका समाज,सदस्य – महिला समिति, तेजपुर,सदस्य – राष्ट्रीय कवि संगम ,गुवाहाटी, सदस्य – पूर्वाशा हिन्दी अकादमी,सदस्य – हिन्दी साहित्य सम्मेलन,तेजपुर दायित्वों का भी निर्वहन कर रही है।
आपकी ‘मनर जयेइ जय ‘(असमीया अनुवाद , मुल-‘मन के जीते जीत’ रचनाकार -राजकुमार जैन राजन) , “वर्णिका” काव्य संग्रह  (हिन्दी) व ‘आतुर शब्द ‘, ‘पूर्वोत्तर की काव्य यात्रा, साहित्य समीधा’, ‘वृन्दा’ , “कुञ्ज निनाद” , “ननिकाला सखी संग्रह” आदि प्रकाशित हो चुके है।
इसके अलावा कई क्षेत्र में कई दायित्व पर कार्य करने के साथ-साथ वर्षो से साहित्य साधना में रत है।
हिन्दी काव्य के अतिरिक्त हिन्दी व्याकरण की गहरी समझ रखने वाली श्रीमती वाणी बरठाकुर कई सम्मानों से नवाजी जा चुकी है।
वर्तमान में श्रीमती बरठाकुर हिन्दी प्रचार हेतु समग्र आसाम प्रान्त में हिन्दीभाषा का प्रचार करेंगे साथ ही प्रदेशभर में ‘हस्ताक्षर बदलो अभियान’ एवं हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने हेतु जनसमर्थन अभियान का संचालन करेंगे। संस्थान हिन्दी को रोज़गारमूलक भाषा बनाने के दायित्व के साथ-साथ भारत के समस्त भाषाओं का हिन्दी भाषा के साथ समन्वय स्थापित करने की दिशा में भी कार्य करेंगी। श्रीमती बरठाकुर की नियुक्ति पर संस्थान के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ नीना जोशी जी,राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष समकित सुराना, राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य शिखा जैन, मृदुल जोशी, मध्यप्रदेश प्रदेश अध्यक्ष कमलेश कमल, दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष रिंकल शर्मा, कश्मीर प्रदेश अध्यक्ष नसरीन अली निधि, जम्मू अध्यक्ष यशपाल निर्मल, तेलंगाना प्रदेश अध्यक्ष श्रीमन्नारायण चारी विराट, मेघालय अवधेश कुमार अवध, राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष मधु खंडेलवाल, प्रिंस बैरागी, नितिन बर्फा आदि हिंदीयोद्धाओं ने बधाइयाँ प्रेषित की।

Translate »